Press "Enter" to skip to content

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व शर्तें – Aatmnirbhar Uttar Pradesh Rojgar Abhiyan

Aatmnirbhar Uttar Pradesh Rojgar Abhiyan Apply | आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान ऑनलाइन आवेदन | उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान एप्लीकेशन फॉर्म  | Uttar Pradesh Rojgar Abhiyan In Hindi | आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान | आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना | आत्‍मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान | आत्‍मनिर्भर UP रोजगार अभियान | Aatma Nirbhar UP Rojgaar Abhiyaan

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान 2020 की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिये उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी और अन्य सम्बंधित विभाग के मंत्रियो की मौजूदगी में सुबह 11 बजे लॉन्च कर दिया है। इस वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्रदेश के सभी जिलों के ग्रामीण कोविड-19 के  मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कॉमन सर्विस सेंटरों और कृषि विज्ञान केंद्रों के माध्यम से इस संवाद में शामिल हुए।  इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के  1 करोड़ लोगों को राज्य सरकार द्वारा रोजगार के अवसर प्रदान किये जायेगे।

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में शुरू की गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अभियान का ही हिस्सा है जिसमें उत्तर प्रदेश को भी जोड़ा गया था। इस अवसर पर प्रधानमंत्री UP के छह जिलों के ग्रामीणों के साथ बात भी करेंगे। सरकार का कहना है की राज्य में करीब 30 लाख प्रवासी श्रमिक अपने-अपने घर वापस लौट चुके हैं। जिनमें से 31 जिलों के 25,000 से भी अधिक प्रवासी श्रमिक अपने घर वापस आ चुके हैं। जिसमें 5 तेजी से उभरते हुए जिले भी शामिल हैं।

अगर देखा जाये तो प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2020 के तहत शुरू किया जा रहा यह आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान पूरे देश की सबसे बड़ी रोजगार योजना है।

HP Mukhyamantri Kanya Dan Yojana 2020

Uttar Pradesh Rojgar Abhiyan In Highlights

योजना का नामआत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान
इनके द्वारा शुरू की गयीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा
लाभार्थीराज्य के प्रवासी मजदूर
उद्देश्यरोजगार के अवसर प्रदान करना

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान ऑनलाइन आवेदन

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान के लिए आवेदन ऑनलाइन लिए जाएँगे या फिर ऑफलाइन, इस बारे में अभी तक कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है। जहां तक है उत्तर प्रदेश सरकार इस आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित करेगी और इसके लिए एक पोर्टल लॉंच किया जाएगा। जैसे ही ऑनलाइन आवेदन अथवा पोर्टल के बारे में कोई जानकारी मिलती है, हम यहाँ पर अपडेट करेंगे।

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान में शामिल विभाग

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार एक तरह की बहुत बड़ी योजना है इसलिए इस तरह की योजना को सफल बनाने के लिए सभी सरकारी विभागों का इसमें शामिल होना जरूरी है इसलिए हम आपको कुछ विभागों की जानकारी दे रहे हैं जो इस योजना को सफल बनाने में साथ मिल कर काम करेंगे:

  • ग्रामीण विकास विभाग
  • पंचायती राज
  • सड़क परिवहन और राजमार्ग
  • खनन
  • पेयजल और स्वच्छता विभाग
  • पर्यावरण विभाग
  • रेलवे
  • पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस
  • नई और नवीकरणीय ऊर्जा
  • सीमा पर सड़कों का निर्माण करने वाला विभाग
  • टेलीकॉम सैक्टर
  • कृषि विभाग

यह सभी विभाग इस आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। इन 1.25 करोड़ लोगों को नौकरी देने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को पहले ही मैपिंग करने के आदेश जारी किए थे; जिसमें मजदूरों की स्किल मैपिंग की गई थी और यह जानकारी इकट्ठी की गई थी की किसके पास क्या-क्या हुनर है। जिसके आधार पर ही उसे काम दिया जाएगा।

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान की रूपरेखा

1) ऋण वितरण – 1.11 लाख नई इकाइयों को 3226 करोड़ का ऋण वितरण किया जाएगा।
2) नियुक्ति पत्र – 1.25 लाख कामगारों को निजी निर्माण कंपनियों से नियुक्ति पत्र उपलब्ध कराया जाएगा।
3) आत्म निर्भर भारत पैकेज – 2.40 लाख इकाइयों को आत्मनिर्भर भारत के तहत 5,900 करोड़ रूपये का लोन वितरण किया जाएगा।
4) विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना – 5,000 कारीगरों को विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना व ओडीओपी के तहत किट का वितरण किया जाएगा।
5) संवाद प्रोग्राम – 6 जिलों के लाभार्थियों से संवाद किया जाएगा।

Social Security Pension Scheme Rajasthan Form-List 2020

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान जरूरी शर्तें

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना का लाभ लेने के लिए लोगों को निम्न्लिखित शर्तों का पालन करना जरूरी है:

  • इस योजना का लाभ लेने वाला नागरिक उसी राज्य का होना चाहिए जहां योजना क्रियान्वित है जैसे की वह उत्तर प्रदेश का नागरिक होना चाहिए।
  • व्यक्ति के पास आधार कार्ड होना भी अनिवार्य है।
  • काम पाने वाले नागरिक को अपना निवास प्रमाण पत्र भी दिखाना होगा जो यह पुष्टि करेगा की वह राज्य का नागरिक है या नहीं।
  • इस योजना में केवल 18 साल या इससे अधिक के लोग ही लाभ ले सकते हैं इससे कम आयु के व्यक्ति को काम नहीं दिया जाएगा।
  • कामगारों को उनकी स्किल या कौशल के आधार पर काम दिया जाएगा।

अन्य कार्यक्रम

  • 1.25 करोड़ कामगारों के नियोजन की शुरुआत
  • 2.40 लाख इकाइयों को आत्मनिर्भर भारत के तहत रु. 5900 करोड़ के कर्ज का वितरण
  • 1.11 लाख नई इकाइयों को रु. 3226 करोड़ का ऋण वितरण
  • 1.25 लाख कामगारों को निजी निर्माण कंपनियों से नियुक्ति पत्र
  • 5000 कारीगरों को विश्वकर्मा श्रम सम्मान व ओडीओपी के तहत किट का वितरण

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना की अवश्यकता

कोविड-19 महामारी का असर सबसे ज्यादा सामान्य कामगारों, विशेषकर प्रवासी श्रमिकों पर पड़ा है जिसके कारण वे अपने राज्यों में वापस लौट आए थे अब उनके पास कोई काम नहीं है। कोविड-19 को फैलने से रोकने की चुनौती प्रवासियों और ग्रामीण श्रमिकों को बुनियादी सुविधाएं एवं आजीविका के साधन उपलब्ध कराने की आवश्यकता के कारण और भी अधिक बढ़ गई। अकेले उत्तर प्रदेश में ही लाखों की संख्या में मजदूर वापस आए थे इसी कारण से सरकार का रोजगार उपलब्ध कराने के लिए उठाए जाने वाला कदम जरूरी है।

इसी स्थिति को कंट्रोल करने के लिए भारत सरकार ने विभिन्न सेक्‍टरों में विकास को नई गति प्रदान करने के लिए आत्‍मनिर्भर भारत पैकेज की घोषणा करी थी। देश के पिछड़े क्षेत्रों में बुनियादी ढांचागत सुविधाएं तैयार करने पर विशेष जोर देते हुए रोजगार सृजन के लिए 20 जून, 2020 को ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ का शुभारंभ किया था। जिसकी शुरुआत आज UP से होने जा रही है।

केंद्र की तरफ से यह अभियान 125 दिनों के लिए मिशन मोड में चलाया जाएगा। 50 हजार करोड़ रुपये के फंड से एक तरफ प्रवासी श्रमिकों को रोजगार देने के लिए विभिन्न प्रकार के 25 कार्यों को तेजी से कराया जाएगा। वहीं दूसरे ओर देश के ग्रामीण क्षेत्रों में बुनियादी ढांचे का निर्माण किया जाएगा।

Read More: Click Here

Be First to Comment

    Leave a Reply